Hindutva Yatra

हिंदुत्व यात्रा.

हिंदुत्व की कीर्ति को कलंकित करने वाले षडयन्त्रों के विरुद्ध वैचारिक युद्ध का शंखनाद है हिंदुत्व यात्रा।

हिंदुत्व क्या है? Hinduism क्या है? हिंदुत्व और Hinduism में क्या अंतर है? हिंदुत्व को लेकर बहुत ज्यादा नफरत क्यों है? ये ऐसे प्रश्न हैं जिनके उत्तर शीघ्रता से दिए जाने की आवश्यकता है क्योंकि यदि हम उत्तरों की तलाश नहीं करते हैं, तो हम कई दशकों से जारी हेरफेर की साजिश में फंस जाएंगे। वामपंथी बुद्धिजीवियों, इतिहासकारों और राजनीतिक नेताओं की एक संयुक्त लॉबी इस साजिश की मुख्य कर्ता धर्ता है।

हिंदुत्व को लेकर भारतवर्ष में कुछ मिथक प्रचलित हैं। यहाँ संक्षेप में कुछ महत्वपूर्ण बिंदु दिए जा रहे हैं।

  • हिंदुत्व केवल एक राजनीतिक विचारधारा है और इसका भारतवर्ष की संस्कृति धर्म और अमर पहचान से कोई सम्बन्ध नहीं है।
  • एक हिंदुत्ववादी (हिंदुत्व का अनुयायी) अन्य संप्रदायों से घृणा करता है।
  • हिंदुत्व जीवन के “धर्मनिरपेक्ष” हिंदू तरीके का उल्लंघन करता है। शब्दों के हेरफेर को देखें। हिंदुत्व का भेदभाव करने के लिए, ये षड्यंत्रकारी एक नया शब्द, “धर्मनिरपेक्ष हिंदू जीवन शैली” लेकर आए।
  • हिंदुत्व विनायक दामोदर सावरकर का मौलिक विचार है।

ये बहुत कम हैं लेकिन ऐसे बहुत सारे मिथक हैं जिन्हें पुस्तक में वर्णित किया जा सकता है और फिर भी यह अपर्याप्त होगा।

यहाँ राग भारत में हम “हिंदुत्व यात्रा” नामक हिंदुत्व पर आधारित एक नई लेख श्रृंखला शुरू कर रहे हैं। इस श्रृंखला में हम इन मिथकों का पर्दाफाश करने की कोशिश करेंगे। कोई भी व्यक्ति कुछ हज़ार शब्दों में हिंदुत्व को परिभाषित नहीं कर सकता है क्योंकि हिंदुत्व कोई विषय नहीं है अपितु हिंदुत्व सनातन का सारांश है। यह एक ऐसा भाव है जो पेन और पेपर तक सीमित नहीं हो सकता। हम नहीं जानते कि इस यात्रा का गंतव्य क्या है, लेकिन हम अपने प्रयासों के बारे में निश्चित हैं। पहला लेख हिंदुत्व की प्रस्तावना के बारे में होगा और इसके बाद हम क्रमशः आगे बढ़ते जाएंगे।

आशा है आप अधिक से अधिक लोगों तक पहुँचने में हमारी मदद करेंगे ताकि हम हिंदुत्व की विजय गाथा को फैला सकें।

वन्दे मातरम।।

Leave a Reply

%d bloggers like this: